पाताल लोक (Paatal Lok) Episode 08: Black Widow

Paatal-lok-episode-06-Vajpeyee

Paatal Lok Episode 08: Black Widow: Amazon Video

IMDb 8.0/10
8/10

जाति से ब्राह्मण बाल किशन वाजपेयी दलितों के लोकप्रिय नेता हैं।
चित्रकूट में इनकी पार्टी की एक झांकी निकलती है, और एक मंच पर जाकर खत्म होती है।

संबोधन की शुरुआत ब्लैक विडो प्रजाति की एक मकड़ी की कहानी से होती है। जो अपने प्रेमी मकड़ी के साथ संबंध बनाने के बाद उसे ही खा जाती है।

वाजपेयी बाकी पार्टियों को वह ब्लैक विडो जैसा बताते हैं। जो दलितों को अपने वोट बैंक बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करतीं हैं।

एक पत्रकार ने इनके बारे में एक रिपोर्ट बनाई थी। जिसमें बताया गया था कि, इनके काफिले के साथ गंगाजल के जेरीकैन्स् से लदी एक गाड़ी चलती है।

रास्ते में जब कभी भी वे दलितों के यहां खाते हैं। तो गेस्ट हाउस पर पहुंचकर गंगाजल से स्नान करते हैं। इस खबर को छापने वाले पत्रकार का कार्यालय तोड़ दिया गया था।

Paatal-lok-episode-06-01-6

संजीव मेहरा कॉन्फ्रेंस हॉल में अपने सहकर्मियों के साथ आने वाले यू पी चुनाव से संबंधित न्यूज़ एंड स्टोरीज़ बनाने के लिए नए एजेंडास् और आइडियाज़ तय कर रहा है।

इस दौरान वह नए प्रशिक्षु रोहन को हल्के में ले कर उसका मजाक बनाने की कोशिश करता है। पर सारा रोहन का बचाव करती है।

Paatal-lok-episode-08-DollyMehra

संजीव मेहरा के घर में, डॉली मेहरा एक गर्भवती कुतिया( सावित्री) को अपने घर में पाल रही है। कुतिया सफलतापूर्वक डॉली की देखरेख में अपने स्वस्थ बच्चों को जन्म देती है।

संजीव को एहसास होता है की अब डॉली उसके हिस्से का समय भी वह अपनी पालतू कुत्तिया सावित्री को दे रही है। सारा भी संजीव के कारनामों को लेकर उसे नाराज है।

Paatal-lok-episode-06-chanda-and-sukla

बालकिशन वाजपेयी के साथ काम करने वाले शुक्ला की मुलाकात तोप सिंह की प्रेमिका चंदा से, एक आलिशान चाईनीज़ रेस्टोरेंट में होती है।

शुक्ला चंदा को बाजपेई के साथ काम करने का मौका देता है। बदले में चंदा शुक्ला की अधूरी ख्वाहिशों को पूरा करती रहती है।

वाजपेयी को खंगालने के क्रम में हाथीराम चौधरी को शुक्ला और चंदा के बीच के संबंध के बारे में पता चलता है।

हाथीराम चौधरी चंदा के होटल में पहुंचता है। थोड़े विवाद के बाद चंदा हाथीराम को कुछ चौंकाने वाली जानकारी देती है।

संभावित षड्यंत्र हाथीराम के सामने और साफ हो जाता है। अब हाथीराम के कटघरे में डीसीपी भगत भी खड़ा दिखाई देता है।

हाथीराम अंसारी को डीसीपी भगत के खास समय अंतराल का फोन रिकॉर्डिंग निकलवाने के लिए बोलता है।

पहले तो अंसारी मना करता है। फिर हाथीराम के मानवीय प्रभाव और नैतिकतावश वह अनऑफिशियली फोन रिकॉर्डिंग उपलब्ध करवा देता है।

पति-पत्नी के बीच में थप्पड़ों का आदान-प्रदान होने के बाद दोनों में आपस का प्रेम और बढ़ गया है।

हाथीराम की पत्नी कई बार हाथीराम को फोन कर के उसका हालचाल ले रही है। हाथीराम भी जल्दी ही लौटने की सांत्वना दे रहा है।

Paatal-lok-episode-08-autodriver

हाथीराम किराए पर रखे हुए ऑटो ड्राइवर के साथ चित्रकूट के क्रियाकर्म का हिसाब रखने वाले सरकारी दफ्तर पहुंचता है।

जो जानकारी हासिल करने के लिए हाथीराम दफ्तर पहुंचता है। ठीक वही जानकारी उसे वहां मिल जाती है।

अब हाथीराम को यह सुनिश्चित हो चुका है। की, दोनलिया मर चुका है। और दोनलिया का दाहिना हाथ ग्वाला गुज्जर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा है।

लेकिन इतनी कीमती जानकारी हासिल करने के एवज में हाथीराम को इसकी कीमत चुकानी पड़ गई।

ग्वाला गुज्जर के आदमी हाथीराम को फॉलो कर रहे थे । ऑटो रिक्शा वाले को गोली मार दी जाती है । हाथीराम अब वाला गुज्जर के कब्जे में है।

अगले एपिसोड में सब दुध का दुध और पानी का पानी होने वाला है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *